• Neha
  • /
  • Feb 11, 2019

नंदा सुनंदा अब किसी का, नाम नही है
गौ धूलि-गौ बेला की सुबह, शाम नहीं है !!
जिसको कहा था कामधेनु, हमने किसी दिन
उस गाय का अब कौंड़ियों में, दाम नहीं है !!